Blog

हिंदी लोकोक्तियाँ या कहावतें Hindi Maxims or Proverbs

लोकोक्ति के पीछे कोई कहानी या घटना होती है जो कालांतर में लोगों के जुबान पर आ गए. इसका प्रयोग गागर में सागर भरने जैसा होता है. अर्थात एक छोटे से अभिव्यक्ति में बड़ी बात आ जाती है.

कहावतें

  • अक्ल बड़ी या भैंस – बल से बुद्धि बड़ी
  • अक्लमंद को इशारा काफी – बुद्धिमान थोड़े में ही समझ जाता है
  • अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता है – अकेला आदमी कुछ नहीं कर सकता
  • अजगर के मुख राम देवैया – भगवान सबको यथा योग्य देते है
  • अधजल गगरी छलकत जाय – अधकचरे आदमी बहुत घमंड करते है
  • अंधे के आगे दीदा खोना – मूर्ख के आगे दुखड़ा नहीं सुनाना चाहिए
  • अंधे में काना राजा – जहाँ मूर्खों का समाज है वहाँ थोड़ पढ़ा-लिखा भी आदर के पात्र हो जाता है
  • अंधे के हाथ बटेर लगना – मूर्ख के हाथ आसानी से धन आना
  • अंधा पीसे कुत्ता खाय – कोई कमावे और कोई उड़ावे
  • अपनी डफली अपना राग – समाज से अलग
  • अपनी कथनी पार उतरनी – अपने कत्र्तव्य से भला-बुरा फल मिलता है।
  • अंधेर नगरी चैपट राजा – अंधाधुंध व्यवस्था
  • अन्धा गुरू बहरा चेला – मूर्खो का समाज
  • अंडा सिखावे बच्चा को कि चेंचें मत कर – छोटे का बड़ों को उपदेश देना
  • अंत भला ता सब भला – जीवन का अंतिम भाग का सुन्दर होना सब सुन्दर बनाता है।
  • अपनी गली में कुत्तें भी शेर – अपनी जगह में कुत्ते भी बलवान होते है।

इन्हें भी देखें-

हिंदी विलोम शब्द

शब्द समूहों के लिए एक शब्द

हिंदी मुहावरें

SSC JHT/SHT, हिंदी प्राध्यापक और बैंक राजभाषा अधिकारी की सम्पूर्ण तैयारी करें. निम्न Courses उपलब्ध है-

निम्न Links पर Click करें और पायें ढेर सारे पठन-सामग्री-

  1. अनुवाद अभ्यास
  2. अंग्रेजी व्याकरण
  3. हिंदी व्याकरण
  4. अंग्रेजी निबंध
  5. अंग्रेजी शब्दकोष
  6. अंग्रेजी क्विज़