Blog

हिंदी व्याकरण संधि किसे कहते है

दो वर्णों के मेल से होनेवाले विकार को संधि कहते है.

कुछ महत्वपूर्ण शब्द और उनका संधि विच्छेद –

अन्याय – अ + नि + आय
अत्युत्तम – अति + उत्तम
आशीर्वाद – आशीः + वाद
अत्याचार – अति + आचार
अधोगति – अधः + गति
अब्ज – अप् + ज
आद्यन्त – आदि + अन्त
इत्यादि – इति + आदि
उन्नति – उत् + नति
उल्लंघन – उत् + लंघन
उपेक्ष – उप + ईक्षा
उच्चारण – उत् + चारण
उज्ज्वल – उत् + ज्वल
एकैक – एक + एक
किन्नर – किम् + नत
उद्धार – उत् + हार
उद्भव – उत् + भव
कृदन्त – कृत् + अन्त
तथैव – तथा + एव
तपोवन – तपः + एव
तपोवन – तपः + वन
तल्लीन – तत् + लीन
तपोभूमि – तपः + भूमि
तिरस्कार – तिः + कार
तद्धित – तत् + हित
देवेन्दग – देव + इन्द्र
दुर्नीति – दु + नीति
दावानल – दाव + अनल
दुश्शासन – दुः + शासन
दिग्गज – दीक् + गज
देवेश – देव + ईश
दिग्भ्रम – दिक् + भ्रम
दुर्दिन – दुुः + दिन
नाविक – नौ + इक
निस्सन्देह – निः + सन्देह
निराधार – निः + आधार
निर्विकार – निः + विकार
नीरोग – निः + रोग
नायक – नै + अक
निर्झर – निः + झर
परमार्थ – परम + अर्थ
प्रत्येक – प्रति + एक

हिंदी और इसकी विशेषता देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

हिंदी वर्ण परिचय – स्वर और वर्ण और इनके उच्चारण स्थान देखने के लिए यहाँ क्लिक करें