Blog

Story behind the Idiom ‘Achilles’ Heel’

ACHILLES' HEEL

दोस्तों क्या आप जानते है कि Achilles’ Heel का मतलब क्या होता है. दरअसल यह एक मुहावरेदार अभिव्यक्ति है जिसका मतलब होता है ‘कमजोर भाग’ या ‘भेद्य अंग’ या ‘A vulnerable point’. इसपर आप वाक्य कैसे बनायेंगे, जानते है-

Ravana’s Achilles’ heel was his naval. Ram hit it and killed him.

रावण का भेद्य अंग उसका नाभि था जिसपर राम ने प्रहार करके उसे मार डाला.

अब चलते है, यह जानते है कि आखिर यह Idiomatic Expression आया कहाँ से? Achilles कौन था?

यूनानी पौराणिक कथाओं (Greek Mythology) में Achilles एक महान योद्धा था. यूनानी लेखक होमर कि कृति Iliad का यह सबसे बड़ा पात्र है जो Trojan के युद्ध में Troy शहर के विरुद्ध लडाई किया था.

Achilles के पिता Peleus थे जो एक देवता थे और अमर थे. उसकी माँ Myrmidons मानव थी जो समुद्र के राजा कि बेटी थी. जब Achilles पैदा हुआ था तो यह भविष्यवाणी कि गयी कि वह शीघ्र मर जायेगा. उसकी माँ Thetis उसे अजेय (Invincible) बनाना चाहती थी और इसलिए उसने Achilles को एक जादुई नदी Styx के पास ले आई और शिशु Achilles की एड़ी (Heel) पकड़कर उसे उस नदी में डूबाकर निकाल ली जिससे उसका सारा शरीर एड़ी (Heel) को छोड़कर अभेद्य हो गया. उसके कमजोर अंग कि जानकारी सिर्फ उसकी माँ और अपोलो नाम कि यूनानी देवता को थी.

Trojan के युद्ध में उसने Briseis नाम कि एक राजकुमारी का अपहरण कर लिया और बाद में उससे प्यार हो गया. यूनानी सेनापति ने उससे वह राजकुमारी छीन लिया जिसके कारण उसने लड़ाई करने से इंकार कर दिया.

यूनानी सेना हार रही थी जो अपोलो नामक देवता को पसंद नहीं आया. उसने दुश्मन सेना को उसके भेदी अंग के बारे में बता दिया और इस तरह से दुश्मन उसके एड़ी पर प्रहार करके उसे मार डाला.

अतः हम देखते है कि Achilles जो अजेय और अभेद्य था अपनी एड़ी के कारण मारा गया.