Anandam Tutorials

Only Platform for SSC Hindi Translator Exams

Home / English / Junior Hindi Translator Exam Preparation- Tips and Exercise

Junior Hindi Translator Exam Preparation- Tips and Exercise

/
/
/
110 Views
img

JHT Exam में सफलता पाने के लिए निम्न बातों पर जरुर ध्यान दे:

  • हिंदी और अंग्रजी व्याकरण पर ध्यान दें
  • हिंदी से अंग्रेजी और अंग्रेजी से हिंदी अनुवाद अभ्यास हमेशा करते रहे
  • हिंदी और अंग्रेजी अलंकारों की जानकारी जरुर रखें क्योंकि शाब्दिक अनुवाद से ज्यादा जरुरी भावानुगत अनुवाद आपको सीखना है
  • अनुवाद के लिए अंग्रेजी अख़बार ले और उसके स्तभों का अनुवाद हिंदी में करें और फिर किसी हिंदी अख़बार के स्तंभों का अंग्रेजी में अनुवाद करके देखें.
  • अनुदित पाठ से सम्बंधित विश्लेषण किसी जानकर से जरुर कराएँ

अब चलें निम्न का अनुवाद हिंदी में करके बताएं. यह पाठ PGDT परीक्षा २०१७ के दिसंबर में आ चुका है. अपने अनुदित अभ्यास का मिलान उत्तर अनुवाद से जरुर करें:

 

As per the clause in the letter of appointment if any declaration/statement or information given by the employee is found to be materially false or untrue. Or is suppressed, etc. affecting his eligibility for appointment in the Department, his services are liable to be terminated forthwith without any notice or compensation in lieu thereof. Hence, if any employee is found to have submitted a forged document (e.g. school leaving certificate indicating false date of birth and /or the qualification) materially affecting his eligibility, his services are liable to be terminated forthwith without initiating any disciplinary proceedings. The Department has the right to terminate the services of such a person in terms of a clause in the letter of appointment.

नियुक्ति पत्र की धारा के अनुसार यदि कर्मचारी के द्वारा दिए गए घोषणापत्र / बयान या कोई सूचना लिखित तौर पर झूठ या असत्य पाया जाता है या उसे छुपाया जाता है जिससे उस पद के चयन के अर्हयता पर प्रश्न उठती है तो उसकी सेवाएँ बिना सूचना या भारपाई के ही ततछन समाप्त कर दी जाएगी. अतएव, यदि कोई कर्मचारी गलत प्रमाण प्रलेख (जैसे विद्यालय परित्याग पत्र जिसमे गलत जन्म तिथि और अथवा गलत योग्यता प्रमाण पत्र) जमा करते है जो अर्हयता के अनुरूप न हो तो उनकी सेवाएँ ततछन बिना कोई अनुशाषणनात्मक सुनवाई  के ख़त्म कर दी जाएगी. विभाग के पास यह अधिकार है कि वह बिना कोई सूचना या भरपाई के नियुक्ति पत्र के नियम एवं शर्तों के अनुव्सर ऐसे व्यक्ति की सेवाएँ ख़त्म कर देगी. 

और देखने के लिए यहाँ क्लिक कर


अनुवाद अभ्यास JHT Exam के लिए

Newsletter

Leave a Comment

This div height required for enabling the sticky sidebar
Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views : Ad Clicks : Ad Views :